Lucky Grahak Yojana Full Details [Hindi and English]

Lucky Grahak Yojana, Lucky Grahak Yojana in Hindi, Lucky Grahak Yojana Full Details : NITI Aayog announces the launch of the schemes Lucky Grahak Yojana and the Digi-धन Vyapar Yojana to give cash awards to consumers and merchants who utilize digital payment instruments for personal consumption expenditures. The scheme specially focuses on bringing the poor, lower middle class and small businesses into the digital payment fold.

It has been decided that National Payment Corporation of India (NPCI) shall be the implementing agency for this scheme. It would be useful to reiterate that NPCI is a not for profit company which is charged with a responsibility of guiding India towards being a cashless society.

How To Avail Lucky Grahak Yojana Offer?

1. Just make digital payments through UPI, AEPS (Aadhaar Enabled Payment System), Rupay and USSD.

2. Click here for Full Details of BHIM App for AAdhaar Based Transaction App

3. You must make transactions between Rs. 50 and Rs. 3,000.

Eligible Mode of Payments For Lucky Draw in Lucky Grahak Yojana

The government is giving these rewards for digital payments however every digital payments are not eligible. Only these 4 types of transactions can participate in DigiDhan Lucky draw

Rupay Card – This may be debit or credit card like Visa and Mastercard. The NPCI has developed this payment gateway. All JanDhan Account holders have got this type of debit card

Unified Payment Interface (UPI) – This is mobile app based payment system. Most of the banks has integrated the UPI to their existing mobile apps. BHIM, SBI Pay, PNB UPI, Axis Pay, PhonePe are the standalone UPI apps.

USSD *99# Banking – This system of payment is for those who don’t have a smartphone or internet. To use this type of payment you have to dial *99# from your feature phone.

Adhaar Enabled Payment System (AEPS) – This payment system does not require phone, internet or signature. This is done on the micro ATM using your Adhaar and fingerprint. The merchant uses Aadhaar payment app to get money.

The payment through the digital wallets e. g. Paytm, Mobikwik, Freecharge, pockets, Buddy would not be eligible for this scheme, unless consumer uses the UPI mode of fund transfer. There are many digital wallets which has integrated the UPI with itself.

So, if you use Phonepe and pay through the UPI mode, you would be eligible for the lucky draw.

Lucky Grahak Yojana Rewards

1. Daily reward of Rs 1000 to be given to 15,000 lucky Consumers for a period of 100 days

2. Weekly prizes worth Rs 1 lakh, Rs 10,000 and Rs. 5000 for Consumers who use the alternate modes of digital Payments

3. This will include all forms of transactions viz. UPI, USSD, AEPS and RuPay Cards but will for the time being exclude transactions through Private Credit Cards and Digital Wallets.

4. 3 Mega Prizes for consumers worth Rs 1 cr, 50 lakh, 25 lakh for digital transactions between 8th November, 2016 to 13th April, 2017 to be announced on 14th April, 2017

How to Check if You Won in Lucky Grahak Yojana

Follow the steps to find out if you have won under the Lucky Grahak and Digi Dhan Vyapar Yojana.

1. Go to the https://digidhanlucky.mygov.in/ website

2. Depending on whether you are a Consumer or a Merchant, click on the corresponding button

3. In the box that appears next, provide the mobile phone number registered with your UPI/ USSD/ RuPay/ AEPS account

4. You will receive an OTP, which you must enter in the box that appears in the middle of the screen

5. Click the Try Your Luck button

6. The next message will show if you have won under the Lucky Grahak Yojana and Digi Dhan Vyapar Yojana

If you have made a payment via the above mentioned approved methods but get the No Information Available message, you can provide more details, such as your card number in case of RuPay, VPA for UPI transactions, Aadhaar number for AEPS, and mobile number (once again) for USSD payments.

Proof of Lucky Graha Yojana

Lucky Grahak Yojana Details in Hindi

लकी ग्राहक योजना की डिटेल और रिजल्ट

देश में ज्यादा से ज्यादा डिजिटल लेन-देन को बढ़ावा देने के लिए भारत सरकार ने क्रिसमस के मौके पर दो बड़ी इनामी योजनाएं शुरू की हैं। पहली है ‘लकी ग्राहक योजना’ और दूसरी ​’डिजि-धन व्यापार योजना’। ‘लकी ग्राहक योजना’ सामान्य उपभोक्ताओं के लिए है और ‘डिजि-धन व्यापार योजना’ व्यापारियों के लिए। मतलब यह कि ​डि​जिटल माध्यम से भुगतान करके या भुगतान लेकर, दोनों तरीके से आप 1000 से एक करोड़ रुपए तक के इनाम जीत सकते हैं। सरकार की ओर से निर्धारित चार तरीकों में से किसी एक तरीके से डिजिटल पेमेंट करके आप इन इनामों के हकदार हो सकते हैं। इसके लिए 25 ​दिसंबर 2016 से रोजाना लकी ड्रा के जरिए 15000 विजेता चुने जा रहे हैं।

आप इस योजना का कैसे लाभ उठा सकते हैं, लेन—देन के स्वीकृत तरीके कौन—कौन से हैं, विजेताओं की चयन प्रक्रिया क्या है और आपका नाम विजेताओं में शामिल है या नहीं, इन सभी जानकारियों के बारे में आगे पढ़िए

लकी ग्राहक योजना में मिलने वाले इनाम

लकी ग्राहक योजना के अंतर्गत आप कई अलग-अलग तरीकों से इनाम के हकदार हो सकते हैं। इसमें स्कीम में हर दिन, हर हफ्ते और अंत में एक मेगा लकी ड्रा होगा। 8 नवंबर 2016 से 13 अप्रैल 2017 तक के digital transaction इस lucky draw में शामिल होंगे।

दैनिक लकी ड्रॉ

रोज 15000 लोगों को इस पुरस्कार के लिए चुना जाएगा
हर विजेता को मिलेंगे 1000 रुपए
लगातार 100 दिन तक चलते रहेंगे यह पुरस्कार।
इस लकी ड्रॉ के जरिए कुल 15 लाख लोगों को इनाम दिए जाएंगे और इसमें सरकार के डेढ़ सौ करोड़ रुपए खर्च होंगे।

साप्ताहिक Lucky Draw

इस श्रेणी के अंतर्गत हर हफ्ते कुल 7000 लोगों को तीन तरह के पुरस्कार दिए जाने हैं।

पहली श्रेणी के विजेता को एक लाख रुपए दिए जाएंगे
दूसरी श्रेणी के विजेता को 10000 रुपए मिलेंगे
तीसरी श्रेणी के विजेता को 5000 रुपए मिलेंगे।
मेगा पुरस्कार

14 अप्रैल 2017 को इस योजना का मेगा ड्रॉ निकाला जाएगा। इसमें 9 नवंबर 2016 से 13 अप्रैल 2017 के बीच किए गए किसी भी digital payment के लिए आप विजेता बन सकते हैं। यहां भी तीन श्रेणियों में विजेता चुने जाएंगे।

पहला पुरस्कार जीतने वाले को मिलेंगे: एक करोड़ रुपए
दूसरे पुरस्कार जीतने वाले को मिलेंगे: 50 लाख रुपए
तीसरा पुरस्कार जीतने वाले को मिलेंगे: 25 लाख रुपए

किस कैटेगरी के ट्रांजैक्शन को कितने इनाम
सरकार ने अलग-अलग प्रारूपों में भुगतान करने वाले लोगों में से विजेताओं के चयन की सीमाएं भी निर्धारित कर दी हैं। इनमें भी सबसे ज्यादा विजेता Rupay card का उपयोग करने वाले बन सकेंगे।

Mode of Transactions Daily Winners
रुपे कार्ड (RuPay Card) 11,900
यूपी आई (UPI) 1,500
एईपीएस AEPS 1,500
यूएसएसडी USSD *99# 100

किन Digital Payment पर मिलेगा पुरस्कार

जैसा कि ऊपर बताया जा चुका है यह योजना सिर्फ उपभोक्ताओं के लिए है। वह भी सिर्फ उन उपभोक्ताओं के लिए जो कि cashless यानी Digital/ online भुगतान करेंगे। इसमें किसी भी सेवा या सामान खरीदने के लिए किया गया भुगतान शामिल है। नीचे दिए गए तरीकों से पेमेंट करने पर ही आप लकी ड्रॉ का हिस्सा बन सकते हैं।

यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस (UPI): ऑनलाइन भुगतान का यह तरीका, उन उपभोक्ताओं के लिए है जो स्मार्टफोन का उपयोग करते हैं। ज्यादातर सरकारी और प्रमुख निजी बैंकों ने अपने यूपीआई एप डेवलप किए हैं। उदाहरण के रूप में BHIM, SBI Pay, PNB UPI, HDFC UPI, ICICI UPI एप आदि। इन apps को Google Playstore से डाउनलोड कर सकते हैं। बैंकों के यूपीआई एप के अलावा कुछ स्वतंत्र UPI Apps भी हैं, जिनसे किसी भी बैंक से किसी भी बैंक के खाते में या अन्य सेवाओं के लिए भुगतान किया जा सकता है। ऐसे एप मेंं Axis Pay, Phonepe आदि ।

यूएसएसडी*99# बैंकिंग: यह सिस्टम उन लोगों के लिए डेवलप किया गया है, जिनके पास स्मार्टफोन या इंटरनेट की सुविधा नहीं है। इस सेवा का उपयोग करने के लिए आपको सामान्य मोबाइल से *99# डायल करना होगा। इसके बाद निर्देशों का पालन करते हुए आप भुगतान कर सकते हैं।

आधार इनेबल्ड पेमेंट सिस्टम (AEPS): इस सेवा के उपयोग के लिए आपको किसी तरीके के फोन, इंटरनेट या हस्ताक्षर की जरूरत नहीं पड़ेगी। माइक्रो ATM में आपके आधार नंबर और फिंगरप्रिंट की मदद से ये भुगतान आसानी से हो जाएंगे। दुकानदार आपसे भुगतान लेने के लिए Aadhaar Payment App का उपयोग करता है।

Rupay कार्ड: इसे वीसा या मास्टरकार्ड के भारतीय विकल्प के रूप में माना जा रहा है। जनधन खाता खुलवाने वाले लोगों को यह डेबिट कार्ड दिया गया है। फिलहाल इस कार्ड से ज्यादा से ज्यादा भुगतान के लिए सरकार जोर दे रही है, ताकि शहर से लेकर गांवों तक डिजिटल भुगतान की प्रक्रिया जोर पकड़ सके। लकी ग्राहक योजना (Lucky Grahak Scheme) में भी सबसे ज्यादा पुरस्कार इसके इस्तेमाल करने वालों को ही दिए जा रहे हैं।

नोट: यहां यह ध्यान रखने लायक है कि Digital Wallet से किए गए भुगतान मान्य नहीं होंगे। Paytm, Mobikwik, Freecharge आदि वैलेट के भुगतान इस स्कीम में शामिल नहीं हैं। हालांकि, अगर आप अपने वॉलेट में UPI का इस्तेमाल करते हैं तो पुरस्कार मिल सकता है।

और हां , Master Cardऔर Visa Card से किए हुए पेमेंट लकी ग्राहक योजना (Lucky Grahak Yojana) के अंतर्गत मान्य नहीं है। सामान्य इंटरनेट बैंकिंग के अंतर्गत किए गए भुगतान भी लकी ग्राहक योजना में शामिल नहीं हैं।

App Jeete hain ki Nahi ye Kaise Check Kren

1. सबसे पहले digidhanlucky.mygov.in पर लॉग आॅन करें

2. वेबसाइट खुलने पर दाहिनी तरफ दो विकल्प मिलते हैं पहला “Consumer” बटन और दूसरा “Merchant” बटन।

3. अगर आप उपभोक्ता हैं तो “Consumer” बटन पर क्लिक करें और व्यापारी हैं तो “Merchant” बटन पर क्लिक करें।

4. अंदर जाने पर आपका रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पूछा जाता है। जैसे ही आप अपना मोबाइल नंबर इसमें डालते हैं तो

5. आपके पास एक OTP Number आएगा।

6. ओटीपी नंबर सत्यापित करते ही वेबसाइट पर सूचना दिखने लगेगी कि आपका नाम विजेता में शामिल है कि नहीं।

7. अगर आपका मोबाइल नंबर बदल गया है या खो गया है या आपने बिना मोबाइल नंबर के सहारे लेेन—देन किया है तो भी आप अपना नाम कंन्फर्म कर सकते हैं।

8. मोबाइल पर ओटीपी मिलने और उसे सत्यापित करने के बाद आपके सामने आपके ट्रांजेक्शन कार्ड नंबर के विकल्प आते हैं। इनको भरने पर भी आपके खाते से संबं​धित विजेता के चयन होने या न होने की सूचना मिल जाती है।

9. अगर आपने इनमें से कोई तरीका नहीं भी अपनाते हैं तो भी परेशान मत होइए। अगर आपके एकाउंट में जमा राशि से 1000 या इससे बड़ी रकम बढ़ गई है तो समझ जाइए आप भी चुने गए हैं लकी ग्राहक योजना या डिजिधन व्यापार योजना में।

3 thoughts on “Lucky Grahak Yojana Full Details [Hindi and English]”

  1. Pingback: Guy wins Rs 1 crore for making digital transaction - The Copy Paste Blog

Leave a Reply to Vivek kumar Cancel reply

%d bloggers like this: